टिड्डी दल का आक्रमण किसान हुए खेतों से बाहर | Tiddi Dal Attack in India

पाकिस्तान से आए इस संकट ने भारत में दी 2 राज्यों में सबसे पहले दस्तक जिसमें यूपी और एमपी की सीमा में दस्तक सबसे पहल है राह में आने वाले जितने भी फसलें हैं सबकोचट कर अब यह दिल्ली की ओर रवाना हो रहे हैं।


Tiddi Dal Attack in India | Locust attack in India 2020


भारत में इस साल मानव संकट का कहर मंडरा रहा है साल 2020 के अभी 6 महीने ही बीते हैं और भारत को बहुत सारे झटकों ने समेट लिया है जैसे कोरोना, तूफान और अब टिड्डी दल का आतंक  भी शामिल हो गया है राजस्थान में घुसी टिड्डियाँ अब देश के दूसरे हिस्सों की ओर भी बढ़ रही है कह सकते हैं कि इस पाकिस्तान हमले का निशाना अब भारत के यूपी, पंजाब, हरियाणा और मध्यप्रदेश की ओर है जैसा कि हम सब जानते हैं आमतौर पर टिड्डियाँ  जून-जुलाई में आती हैं और सारी फसलों को चट कर जाता है और ऐसे में किसान पहले से ही परेशान होने के साथ-साथ टिड्डी दाल Tiddi Dal Attacks in India का सामना करने में समर्थ नहीं है क्योंकि इस बार टिड्डियों का दल समय से पहले आकर हमला बोल दिया है अभी कोरोना  वायरस के चपेट में किसानों को बहुत ज्यादा नुकसान हुआ था उसके बाद तूफान अब अचानक से समय से पहले टिड्डी दलों का आना या एक भारी नुकसान का संकेत है।

आपको बता दें कि ये टिड्डिया १ -२ दिन में  200-200 किलोमीटर्स से बढ़ती हुई देश में  प्रवेश कर रही है रास्ते में जितनी भी फसलें सब्जियां इनके चपेट में आती है उनको वो गंभीर खतरा पहुंचाती हैं और उनको चट कर जाती हैं इसी कारण बीते वर्ष राजस्थान में 1000 करोड़ का नुकसान हुआ था।

Tiddi dal attack in Rajasthan


राजस्थान में  जैसलमेर, बाड़मेर, श्रीगंगानगर, जोधपुर, जयपुर में  प्रवेश कर इनका दूसरा अटैक यूपी है इनका दाल  बहुत ही तेजी से आगे बढ़ रहे हैं और फसलों को नुकसान पहुंचाते जा रहे हैं विशेषज्ञों की मानें तो एक बहुत बड़े झुंड में आती हैं और इनका शरीर 2. 5 इंच तक बड़े होते हैं  देखा जाए तो बहुत ही छोटे होते हैं परंतु जब यह झुंड में आते हैं तो काफी नुकसान पहुंचाते हैं जैसा कि हम सब जानते हैं पंजाब और हरियाणा में अलर्ट जारी कर दिया गया है और आपको बता दें आंधी के साथ 1 दिन में 200 किलोमीटर तक आगे बढ़ी जा रही टिड्डियाँ  इनका प्रवेश आगरा में भी होना सम्भव हैं आगरा में किसी भी समय यह प्रवेश कर सकती है आगरा में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है।

पर्यावरण मंत्रालय ने आगरा के किसानों को सतर्क रहने को कहा है, इससे पहले सहारनपुर, मुजफ्फरपुर साली, मेरठ, हापुड़, मथुरा, बागपत, गाजियाबाद और अलीगढ़ में भी हाई अलर्ट जारी कर दिया गया था हम यह कह सकते हैं कि आगरा में किसी भी समय प्रवेश कर सकती हैं  किसानों को सतर्क रहना चाहिए। 

Post a Comment

0 Comments